pic source: google
हम जो चलने लगे चलने लगे हैं ये रास्ते....

परफेक्ट सॉंग है ना लॉन्ग ड्राइव के लिए...नैना अमित की तरफ देखकर बोली...और ये बारिश तो इस ड्राइव में जान डाल रही है...अमित मुस्कुराते हुए बोला...

कहीं चाय की टपरी मिल जाए तो मजा ही आ जाएगा...नैना बोली

इस हाइवे पर चाय की टपरी नहीं बल्कि भूत मिलते हैं...अमित नैना को चिढ़ाते हुए बोला...

चुप रहो अच्छे माहौल में ऐसा मजाक नहीं करते हैं...नैना ने अमित को डांटा...

अरे मैं मजाक नहीं कर रहा सच कह रहा हूं...ये हाईवे हॉन्टेड है इस हाईवे पर सबसे ज्यादा एक्सीडेंट होते हैं और किसी की भी लाश नहीं मिली आजतक...अमित बोला


अमित की बातें सुनकर नैना थोड़ी सी शांत हो गई...

ये हाईवे जंगलों के बीच से होकर जाता है तुम्हें पता था क्या...नैना ने जंगलों की तरफ देखते हुए अमित से पूछा...

हां क्यों? अमित बोला

शाम हो रही है रात से पहले हमें होटल पहुंचना है...रैना चिंता करते हुए बोली...

अरे बाबा तुम तो डर रही हो, जस्ट चिल यार हम हनीमून पर जा रहे हैं यूद्ध लड़ने नहीं...अमित हंसते हुए बोला...

तभी धड़ाम की आवाज आई और अमित ने अचानक से ब्रेक लगाकर गाड़ी रोक दी...

क्या हुआ नैना खुद को संभालते हुए बोली...

ऐसा लगा कि कोई मेरी गाड़ी से टकराया है...अमित पसीना पोछते हुए बोला...

देखो गाड़ी चलाओ बारिश हो रही है और रात भी होने वाली है...नैना डरते हुए बोली

अगर किसी का एक्सीडेंट हुआ होगा तो...अमित ने कहा

इस जंगल में कौन घूमेगा वो भी बरसात में...नैना बोली...

अमित ने नैना की एक ना सुनी और गाड़ी से नीचे उतर गया...नैना अभी भी गाड़ी में बैठी थी...

अमित भीगता हुआ गाड़ी के चारों तरफ घूमकर देख रहा था...लेकिन वहां एक परिंदा भी नहीं था।

तभी अमित को गाड़ी ने नीचे से खून बहता हुआ दिखाई जब तक वो नीचे झांककर देखता किसी ने गाड़ी के नीचे से उसका पैर खींच लिया...अमित जोर-जोर से चिल्लाने लगा...अमित की चीख सुनकर नैना गाड़ी से नीचे उतरी लेकिन तब तक वो चीख शांत हो चुकी थी...नैना को अमित कहीं दिख नहीं रहा था...उसे लगा कि गाड़ी के नीचे से किसी की आवाज आ रही है जैसे कि कोई कुछ खा रहा हो...उसने गाड़ी के नीचे झांका तो एक दस साल की बच्ची जो बिल्कुल कंकाल लग रही थी, शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था,डरावनी आंखे और सिर पर गंदे बाल...वो अपने बड़े-बड़े नाखून से अमित को नौंच-नौंचकर खा रही थी...नैना चीखते हुए कार मैं बैठी और गाड़ी को बैक करते हुए फिर गाड़ी को तेजी से आगे बढ़ाया जिससे की वो लड़की या फिर वो जो कुछ भी थी कार से दब कर मर जाए...लेकिन ये क्या वो तो कहीं गायब हो गई थी...तभी गाड़ी की बोनट पर वो लड़की ना जाने कहां से कूद पड़ी...नैना बिना ब्रैक मारे गाड़ी को फुल स्पीड से चलाए जा रही थी और वो उस बोनट पर इधर-इधर घूम रही थी...गाड़ी की रफ्तार इतनी तेज थी की वो नैना के कंट्रोल से बाहर हो गई और एक पेड़ से जाकर टकरा गई...नैना का सिर स्टियरिंग से टकराया और वो बेहोश हो गई...जब उसकी आंख खुली तो वो घने जंगल में थी...उसने कार दुबारा से स्टार्ट करनी चाही लेकिन कोई फायद ना था...उसने अपना फोन निकाला और कोई नंबर डायल करने लगी लेकिन नेटवर्क ना होने की वजह से उसका फोन नहीं लग रहा था...नैना ने फोन का फ्लेश जलाया और गाड़ी से नीचे उतरी...तभी किसी ने उसे तेज से धक्का दिया और वो एक गड्ढे में जा गिरी...नैना ने उठने की कोशिश की तो करकराहट की आवाज आई जैसे किसी की हड्डियां टूट रही हो...नैना ने धयान से देखा तो वो गड्ढा कंकालों से भरा पड़ा था...

बचाओ-बचाओ प्लीज कोई मुझे यहां से निकालो...रोती हुई नैना की आवाज पूरे जंगल में गूंज रही थी...गड्ढा ज्यादा गहरा नहीं था नैना चाहती तो उसमें से आसानी से निकल सकती थी लेकिन बारिश की वजह से उसका पैर बार-बार फिसल रहा था...किसी तरह से वो उस गड्ढे से बाहर निकली...वो लगातार रोए जा रही थी और भाग रही थी...तभी उसे लगा कि कोई उसका पीछा कर रहा है...उसने पीछे मुड़कर देखा तो वो लड़की उसके पीछे ही थी...वो जोर-जोर चिल्ला रही थी कि शायद हाईवे पर कोई उसकी आवाज सुन ले लेकिन उसकी आवाज सुनने वाला वहां कोई ना था...भागते-भागते वो हाईवे पर पहुंच गई लेकिन वो लड़की उससे पहले ही वहां पहुंच चुकीं थी, जैसे वो उसी का इंतजार कर रही हो...वो लड़की नैना की तरफ उसे खाने को दौड़ी लेकिन तभी तेज रोशनी से उसकी आंखों पर पड़ी और वो वहां से भाग गई...वो रोशनी एक ट्रक की थी...ट्रक देखकर नैना की जान में जान आई वो मदद की गुहार लगाने लगी...पहले तो ट्रक आगे बढ़ गया लेकिन फिर ना जाने क्या सोचकर वो रुका...ट्रक को रुका देखकर नैना तेजी से भागी...एक औरत ने उसकी तरफ हाथ बढ़ाया और उसे ट्रक में बैठा दिया...ट्रक चल रहा था और नैना लगातार रो रही थी...अमित की मौत उसके आंखों के सामने घूम रही थी...।

सुबह हुई, बारिश भी रुक चुकी थी...उस हाईवे पर पुलिस और पत्रकार मौजूद थे...शरीर के कुछ लोथड़े देखकर पुलिस अंदाजा लगा रही थी कि ये किसी जंगली जानवर का काम है...वहीं टी.वी पर ब्रेकिंग न्यूज थी कि खून के रंग से फिर से लाल हुआ हॉन्टेड हाईवे।

क्या नैना दुबारा उस हाईवे से गुजरेगी जानिए अंगले अंक में