about us


जिंदगी की राह में मुसाफिर हूं घूमती
तोड़कर हर बंधन आजाद आसामान चूमती
उड़ते हुए पंक्षियों की परिभाषा हूं मैं
दूसरों की नहीं खुद की आकांक्षा हूं मैं।


एक लड़की जिसे घूमना पसंद  है,  आसपास हो रही घटनाओं को देखती है और फिर उन्हें कहानियों  में पिरोकर ब्लॉग पर लिखती है...
आकांक्षा न्यूज चैनल के साथ-साथ न्यूज पोर्टल और  समाचार पत्र में  भी  काम कर चुकी हैं, और इस समय वो नीदरलेंड में रहती हैं...
आकांक्षा को हिंदी में कहानियां लिखना और पढ़ना पसंद है

इंस्टाग्राम पर फॉलो करें.



    0 Comments